163 Views

गर्दन दर्द की दवा और 15 घरेलू उपचार

आजकल की भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण गर्दन दर्द तेजी से बढ़ने वाली आम समस्या बनती जा रही है| गर्दन दर्द का मुख्य कारण खराब मुद्रा में कोई का करना या सोना है| खराब मुद्रा के कारण हमारी गर्दन की मांसपेशियों में अतिरिक्त तनाव पैदा हो जाता है, जिसके कारण गर्दन में दर्द होने लगता है|

गर्दन दर्द
अधिकतर मामलो में गर्दन में होने वाला यह दर्द अधिक गंभीर नहीं होता और अपने आप ही कुछ दिनों में ठीक हो जाता है, इसके विपरीत गर्दन में दर्द होना कई बार किसी बीमारी या चोट का गंभीर संकेत हो सकता है| ऐसा होने पर गर्दन में होने वाला दर्द अपने आप ठीक नहीं होता और जैसे जैसे दिन बढ़ते जाते है, वैसे वैसे गर्दन में होने वाला दर्द गंभीर होता जाता है|

अगर आपकी गर्दन में लम्बे समय तक दर्द हो रहा है और इसके साथ कुछ अन्य लक्षण भी आपमें नजर आ रहे है, तो इस स्थिति को नजरअंदाज ना करे और तुरंत बिना देर किसी अच्छे डॉक्टर से इसकी जाँच कराये| इस पोस्ट में हम आपको गर्दन दर्द के लक्षण, कारण और इसके इलाज के घरेलू उपायों के बारे में बताने जा रहे है|

गर्दन में दर्द के लक्षण
गर्दन पर हाथ लगाने पर दर्द होना
गर्दन में झुनझुनी होना
चक्कर आना
शरीर कांपना
निगलने में परेशानी होना
लिम्फ नोड में सूजन
गर्दन दर्द के कारण

1. गलत पोजीशन में सोने के कारण गर्दन में दर्द होने लगता है|

2. कैंसर, दिमागी बुखार और गठिया जैसे रोगो के कारण भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

3. बहुत भारी हेलमेट पहनकर ड्राइविंग करने से भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

4. नसों पर अधिक दबाव पड़ने के कारण भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

5. सोने समय गर्दन के निचे बहुत बड़े और अधिक ऊंचे तकिये का इस्तेमाल करने से भी गर्दन दर्द होने लगता है|

6. गर्दन को लम्बे समय तक झुकाने से भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

7. गलत तरीके से बैठने और उठने के कारण भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

8. सिर पर भारी वजन उठाने के कारण भी कई बार गर्दन दर्द होने लगता है|

9. एक ही पोजीशन में लम्बे समय तक बैठे रहने से भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

10. कंप्यूटर पर अधिक समय तक झुककर काम करने के कारण भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

11. कई बार गर्दन में किसी प्रकार की चोट लगने के कारण भी गर्दन में दर्द होने लगता है|

12. बहुत देर तज मोबाइल पर गर्दन झुकाकर बात करने से गर्दन में दर्द होने लगता है|

गर्दन दर्द का उपचार

मेथी – मेथी को एक घंटे के लिए पानी में भिगोकर रख दे| अब पानी के साथ मेथी को पीसकर बारीक़ पेस्ट बना ले| गर्दन दर्द होने पर मेथी का ये लेप गर्दन पर दो से तीन बार लगाए| ऐसा करने से गर्दन में होने वाला दर्द ठीक हो जाता है|

लौंग का तेल – लौंग के तेल के इस घरेलू उपयोग से गर्दन दर्द में बहुत आराम मिलता है| गर्दन दर्द होने पर लौंग के तेल में सरसो का तेल मिलाकर गर्दन की मालिश करने से गर्दन दर्द में आराम मिलता है|

जैतून का तेल – अगर आपकी गर्दन में दर्द है, तो जैतून के तेल के इस घरेलू नुस्खे को जरूर अपनाये| जैतून के तेल को हल्का गुनगुना होने तक गर्म करे| अब इस गुनगुने जैतून के तेल से गर्दन की अच्छी तरह मालिश करे| मालिश करने के बाद गर्म पानी में एक कॉटन की टॉवल भिगोकर 10 से 15 मिनट के लिए गर्दन पर रखे| ऐसा करने से आपकी गर्दन में होने वाला दर्द खत्म हो जायेगा| अगर आपकी गर्दन में दर्द अधिक है, तो इस घरेलू नुस्खे को दिन में दो से तीन बार अपनाये|

बर्फ – चोट के कारण अगर गर्दन में दर्द हो रहा है, तो इसे बर्फ के माध्यम से ठीक किया जा सकता है| चोट वाले हिस्से की बर्फ से सिकाई करे, ऐसा करने से गर्दन में होने वाला दर्द ठीक हो जायेगा| इस घरेलू नुस्खे को दिन में दो से तीन बार 20 से 25 मिनट अपनाने से गर्दन में होने वाला दर्द ठीक हो जायेगा|

सौंठ – सौंठ के पाउडर को सरसो के तेल में मिलाकर इस तेल से गर्दन की मालिश करने से गर्दन में होने वाले दर्द से राहत मिलती है| सौंठ के पाउडर को बराबर मात्रा में असगंध के पाउडर के साथ मिलाकर सुबह शाम एक एक चम्मच दूध के साथ लेने से गर्दन में होने वाले दर्द से छुटकारा मिलता है|

अजवाइन – अजवाइन के इस्तेमाल से गर्दन के दर्द को मिनटों में गायब किया जा सकता है| गर्दन में दर्द होने पर अजवाइन को एक सूती कपडे में बांधकर पोटली बना ले| अब इस पोटली को गर्म तवे पर गर्म करके इससे गर्दन की सिकाई करे| कुक देर तक ऐसा करने से गर्दन में होने वाला दर्द गायब हो जायेगा|

अदरक की चाय – अदरक की चाय गर्दन दर्द की अनोखी दवा है| चाय में एक चम्मच अदरक का पेस्ट डालकर पीने से गर्दन में होने वाला दर्द पूरी तरह ठीक हो जायेगा| अदरक मार्किट में आसानी से मिल जाता है और अदरक की चाय पीने से सर्दी खांसी में भी आराम मिलता है|

लहुसन – लहसुन में अनेक प्रकार के औषधीय गुण पाए जाते है, जिसके कारण यह दर्द के लिए रामबाण औषधि का काम करता है| गर्म सरसो के तेल में लहसुन की तीन से चार कलिया डालकर इनका रंग सुनहरा होने तक तेल को गर्म होने दे| अब इस तेल को ठंडा करके किसी बर्तन में रख ले| इस तेल की मालिश से हड्डियां मजबूत होती है और गर्दन में होने वाला दर्द भी गायब हो जाता है|

गर्दन दर्द की घरेलू दवा
1. गर्दन में दर्द होने पर गर्दन की गर्म पानी से सिकाई करे| गर्म पानी की सिकाई से गर्दन दर्द से राहत मिलती है और रक्त संचार भी बढ़ जाता है|

2. अदरक दर्द निवारक दवा की तरह काम करता है| अदरक पाउडर को पानी में मिलाकर पेस्ट बना ले| अब इस पेस्ट को कुछ देर के लिए अपनी गर्दन पर लगाए, ऐसा करने से गर्दन के दर्द से राहत मिलती है|

3. गर्दन दर्द होने पर किसी अच्छे तेल से गर्दन की मसाज करने से गर्दन दर्द में आराम मिलता है| ध्यान रहे गर्दन की मसाज हल्के हाथो से करे|

4. सरसो के तेल में हींग और कपूर का पाउडर बराबर मात्रा में मिलाकर इस तेल से गर्दन की मालिश करने से गर्दन का दर्द गायब हो जायेगा|

5. गर्दन में दर्द होने पर गर्म पानी से नहाये| गर्म पानी से नहाने से गर्दन का दर्द जल्दी ठीक हो जायेगा|

गर्दन में दर्द से बचाव
1. अगर आप गर्दन दर्द से बचना चाहते है, तो रोजाना नियमित रूप से व्यायाम और योगा करने की आदत डाले|

2. कंप्यूटर पर अधिक झुककर काम ना करे और मोबाइल पर गर्दन झुकाकर बात ना करे|

3. लम्बे समय तक एक ही पोजीशन में बैठकर काम करने की आदत को तुरंत छोड़ दे|

4. गर्दन दर्द से बचने के लिए अपनी सामर्थ्य के अनुसार ही सामान उठाये, अधिक भारी सामान उठाने से बचे|

5. गर्दन दर्द से बचने के लिए सोते समय तकिये का इस्तेमाल ना करे, अगर आप बिना तकिये के नहीं सो पाते, तो केवल पतला तकिया ही लगाए| अधिक मोटा तकिया गर्दन के निचे लगाने से गर्दन में दर्द होने लगता है|

6. गर्दन दर्द से बचने के लिए पेट के बल ना सोएं| पेट के बल सोने से गर्दन पर तनाव बढ़ता है, जिसके कारण गर्दन में दर्द होने लगता है, इसीलिए पेट के बल ना सोएं|

7. अगर आप गर्दन में होने वाले दर्द से बचना चाहते है, तो लम्बे समय तक एक ही पोजीशन में ना बैठे|